कुशीनगर में बढ़ता जहरीली शराब का कारोबार

लखनऊ से 326 किलोमीटर दूर पूर्वी यूपी में कुशीनगर जिले के तरयासुजान इलाके में पिछले तीन दिनों में जहरीली शराब का सेवन करने से 10 लोगों की मौत हो चुकि है, मरने वालों में दो सगे भाई भी हैं। मौनी अमावस्या पर सोमवार को विरवट कोन्हवलिया के पास गंडक नदी के घाट पर लगे मेले में बेची गई जहरीली शराब लगातार लोगों की जानें निगल रही है, मेले में सरेआम पाउच में भरकर जहरीली शराब के बिक्री की गयी थी। मेले में यूपी व बिहार के दर्जनों गॉंवों के लोग गए थे, वहीं पर कुछ गरीब तबके के लोगों ने इसका सेवन किया।

वहीं जहरीली शराब पीने से होने वाली मौतों की संख्या लगातार बढ़ने से प्रशासन में हड़कंप मचा है।

क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक समेत आठ लोग निलंबित

तरयासुजान में जहरीली शराब से नौ मौतें होने के बाद गुरुवार को तरयासुजान के क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक और आबकारी के चार सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया गया है, तथा तरयासुजान एसओ व दरोगा समेत चार पुलिसवालों को भी सस्पेंड कर दिया गया है।. तरयासुजान थाने की जिम्मेदारी कसया एसओ को सौंपी गई है। कुशीनगर शराब कांड के मुख्य आरोपी 50 हजार के इनामी दूधनाथ सिंह को गोरखपुर के सलेमगढ़ से गिरफ्तार कर लिया गया है.

loading...
Close
Close