शराब में वियाग्रा…चीन में पकड़ी गई ऐसी शराब

चीन क्या ऐसी भी शराब मिलती है जिसको पीने से वही असर होता है जो वियाग्रा खाने से होता है। चीन में ये बात बड़े जोर शोर से प्रचारित की गई है कि दक्षिण चीन के एक इलाके में ऐसी शराब खूब बिक रही है जिसको पीने से वियाग्रा का असर होता है, यानी सेक्स पाॅवर बढ़ जाता है। ये बात अपने आप में है तो जंचने वाली। दक्षिणी चीन के खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने जब इसकी जांच की तो पता चला कि वहां के कई शराब बनाने वाले शराब की हजारों बोतलों में वियग्रा मिला रहे हैं। इतना ही नहीं ग्राहकों को गुमराह करते हुए इन लोगों ने यह भी उड़ा दिया कि शराब में स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने वाले गुण हैं। दरअसल वे लोग वियाग्रा वाली अपनी बात को दबा रहे थे।

यह भी पढ़ें- कुलदेवता पर शराब की जगह साफ्ट ड्रिंक !

चीन के दक्षिण में स्थित लियोजों शहर से जांचकर्ताओं ने शराब की करीब 5300 बोतलें इसी कारण जब्त की हैं। इसके साथ ही उन्हें सिल्डानेफिल नाम के सफेद पाउडर के भी कई पैकेट पकड़े हैं। ये वही साॅल्ट है जो वियाग्रा नामक दवा का मुख्य अवयव है। वियाग्रा इसी साॅल्ट से तैयार की जाती है और सेक्स पावर बढ़ाने के लिए पूरी दुनिया में इस्तेमाल की जाती है।

यह भी पढ़ें- मार्टिन्स काॅर्नर बिन अधूरी है गोवा की सैर !

चीनी पुसिल फिलहाल पकड़े गए दो शराब बनाने वालों की जांच कर रही है। जांच कर्ताओं ने बताया कि सिल्डानेफिल पाउडर को तीन तरह की शराब के उन ब्रांड्स में में मिलाया गया था जो कि चीन में काफी पसंद किए जाते हैं। जांच अधिकारियों के अनुसार जब्त किए गए सामान की कीमत 7 लाख यूआन (करीब 72 लाख रुपए) है। डॉक्टरों के अनुसार एक व्यस्क व्यक्ति एक दिन में वियग्रा की एक गोली ले सकता है लेकिन शराब में इसे मिलाकर लेने से इसका असर कितना घातक हो सकता है, ये शोध का विषय है। इस साॅल्ट के इंजेक्शन भी आते हैं। डाक्टर्स का कहना है कि वियाग्रा इरेक्शन के लिए खाई जाती है जबकि एल्कोहल से इरेक्शन बढ़ने के बजाए घट जाता है, दोनों का असर परस्पर विरोधी है।

यह भी पढ़ें- ब्रांडेड शराब में भी होता है मिलावट का खेल !

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस बात पर शोघ हो रहा है कि इस सिल्डानेफिल साॅल्ट से महिलाओं की सेक्स पावर भी बढ़ती है या नहीं। लेकिन पुरुषों के लिए ये दवा एक वरदान बनकर पिछले दशक में आई थी और देखते ही देखते बाजार में छा गई। डाॅक्टरों के अनुसार सिल्डानेफिल और अल्कोहल का मिश्रण खतरनाक भी हो सकता है। ये अलग अलग ढंग से रिएक्ट कर सकता है। जरूरी नहीं है कि चीन में इसका जो दुष्प्रभाव हो वही भारत में भी हो। सिल्डानेफिल यानी वियाग्रा एक दिन में एक गोली खाई जा सकती है। 65 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों को प्रतिदिन एक दिन में एक गोली से कम मात्रा में इसे लेना चाहिए।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close