नए साल में शराब की बिक्री बढ़ी


2018 की विदाई तथा 2019 के स्वागत में लखनऊ के बशिंदो नें लगभग 5 करोड़ रूपये की शराब पी डाली। 2019 की शुरूवात में सबसे ज्यादा भीड़ होटल और माॅडल शाॅप में रही। हालंकि साल का पहला दिन मंगलवार पड़ने के कारण शराब की बिक्री कम हुई है, फिर भी खपत का यह आंकड़ा पिछले साल से लगभग 2 करोड़ रूपये ज्यादा हैं। आबकारी विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल की अपेक्षा इस साल इन दो दिनों में देशी शराब में करीब 92 फीसदी की और अंग्रेजी शराब में करीब 70 फीसदी की वृद्धि हुई।

ये भी पढ़े :- बिना कुछ किए ही यूपी सरकार की कमाई बढ़ रही शराब से

लखनऊ शराब असोसिएशन के महामंत्री कन्हैया लाल मौर्य ने बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस बार करीब दो करोड़ रुपये की अधिक बिक्री रेकॉर्ड की गई। दो दिनों में लखनऊ में करीब 2 करोड़ रुपये की देशी शराब बिकी जबकि पिछले साल देशी शराब की बिक्री करीब सवा करोड़ रुपये की हुई थी। इसी तरह अंग्रेजी 2.25 करोड़ की अंग्रेजी शराब और 75 लाख रुपये की बीयर बिकी। बताया कि अंग्रेजी शराब की दुकानों पर जहां भीड़ कम देखने को मिलीए वहीं होटलों में खुले अस्थाई बार भीड़ जुटाने में सफल रहे। नए साल के मौके पर लखनऊ में 60 अस्थाई बार के लाइसेंस आबकारी विभाग से लिए गए थे।

जिला आबकारी अधिकारी जनार्दन यादव ने बताया कि विभाग रोजाना के आंकड़े तो नहीं तैयार करताए लेकिन 25 दिसंबर से 31 दिसंबर तक शराब बिक्री के आंकड़ों के मुताबिक इन छह दिनों (2018) में यहां 5,25,870 बोतल अंग्रेजी शराब बिकीं। जबकि पिछले साल इन दिनों में यहां 3,08,428 बोतल अंग्रेजी शराब बिकी थी।

ये भी पढ़े :- भारत और चीन में तेजी से बढ़ रहे हैं शराब उपभोक्ता

इसी तरह पिछले साल इन दो दिनों में यहां 3.38 लाख बोतल बीयर बिकी थीए जबकि इस साल यहां 5.94 लाख बोतल बीयर की बिक्री हुई। देशी शराब में पिछले साल की अपेक्षा 92 फीसदी बढ़ोतरी दर्ज की गई। पिछले साल इन छह दिनों में 3.38 लाख लीटर देशी शराब बिकी थीए जबकि इस साल यहां देशी शराब की बिक्री 6.50 लाख लीटर है।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close