अवैध शराब के कारोबार पर लगाम नहीं लग पा रही है

कानपुर नगर व देहात में मिलावटी शराब पीने से करीब 17 मौतें हुई थी। इस घटना के बाद जहां दोनों जनपदों में हाहाकार मच गया था, वहीं आबकारी विभाग पर बड़ा संकट आ खड़ा हुआ था। इसके बाद आबकारी निरीक्षक पर कार्यवाही के साथ कानपुर देहात के सभी आबकारी निरीक्षकों का तबादला हो गया था। शराब की वजह से हुई ताबड़तोड़ मौतों के बावजूद माफिया बाज नहीं आ रहे हैं।

ये भी पढ़े :- आबकारी सिपाही और होमगार्ड्स रोकेंगे शराब की तस्करी

लगातार मिल रही सूचना के बाद आबकारी दस्ते ने भीतरगांव स्थित अंग्रेजी शराब ठेका में छापा मारा, जहां सेल्समैन एक साथी के साथ अवैध शराब की पैकिंग करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया। ठेके में स्टाक से अधिक शराब बरामद होने की भी बात कही जा रही है, लेकिन देर शाम तक आबकारी टीम के कोतवाली न पहुंचने और सीयूजी मोबाइल फोन स्विच आफ होने से उहापोह की स्थिति है

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दोपहर 11 बजे दो गाड़ियों से कस्बे के पसेमा रोड स्थित ठेके पहुंची आबकारी टीम को अंग्रेजी शराब ठेके की दुकान का शटर बंद मिला। दुकान के अंदर से आहट मिलने के बाद टीम की अगुवाई कर रहे आबकारी निरीक्षक अरविंद शुक्ला ने भीतरगांव चौकी पुलिस को मौके पर बुला कर शटर खुलवाया, तो अंदर गांव तिलसड़ा निवासी सेल्समैन व एक अन्य युवक को मिलावट करते रंगे हाथों पकड़ लिया। टीम को मौके से भारी मात्रा में ढक्कन व केमिकल और स्टाक रजिस्टर में अंकित मात्रा से अधिक शराब भी दुकान के अंदर से बरामद हुई है। जिसके बाद टीम कई पेटी मिलावटी शराब, ढक्कन व केमिकल के नमूने अपनी गाड़ियों में लाद कर सेल्समैन को साथी के साथ रवाना हो गई है।

ये भी पढ़े :- अब यूपी में अवैध शराब बनाने वालों को सुधारने की पहल

उधर देर रात पूछने पर प्रभारी निरीक्षक रवी श्रीवास्तव ने आबकारी टीम के मुकदमा दर्ज कराने कोतवाली न पहुंचने की जानकारी दी। संपर्क का प्रयास करने पर क्षेत्रीय आबकारी अधिकारी अरविंद शुक्ल व जिला आबकारी अधिकारी के सीयूजी फोन लगातार स्विच आफ मिले। उप आबकारी आयुक्त एसएस मिश्र ने भीतरगांव समेत कई स्थानों पर छापा डाले जाने की पुष्टि की। लेकिन देर रात तक टीम के मुकदमा दर्ज कराने कोतवाली न पहुंचने के सवाल पर उन्होंने आबकारी अधिनियम में अन्य प्रावधान भी होने की जानकारी देते हुए कहा कि गड़बड़ी पाए जाने पर अनुज्ञापी के खिलाफ भारी आर्थिक दंड के साथ अन्य दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

चीयर्स  डेस्क 

loading...
Close
Close