हर घर को मिलेगा पीने का पानी

यूपी की राजधानी, लखनऊ वासियों के लिए एक रहत भरी खबर है। यहाँ अब हर घर को पाइप लाइन के जरिये मिलेगा पीने का पानी। इसके तहत नगर विकास मंत्री ने लखनऊ के लिए योजना बनाने को कहा है, जिससे हर घर तक तक पाइप लाइन पहुंच सके।

बैठक में नगर विकास मंत्री ने जब सभी को पाइप से पानी देने की योजना बनाने को कहा तो तब जा के सच्चाई सामने आई। लखनऊ में मात्र 3800 किलोमीटर में ही पाइप लाइन से पेयजल आपूर्ति होती है। लखनऊ शहर के चार सौ किलोमीटर क्षेत्र में पीने के पानी की आपूर्ति के लिए पाइप लाइन ही नहीं है। नई कॉलोनियों के साथ अनियोजित कॉलोनियों में पेयजल आपूर्ति का कोई इंतजाम तक नहीं है।

बैठक में कमिश्नर मुकेश मेश्रम, सचिव नगर विकास अनुराग यादव, आवास आयुक्त अजय कुमार चौहान, डीएम कौशलराज शर्मा, एलडीए उपाध्यक्ष प्रभू एन सिंह, नगर आयुक्त डा. इंद्रमणि त्रिपाठी, जलनिगम के प्रबंध निदेशक विकास गोठलवाल आदि मौजूद थे। इस समय शहर में कुल 705 एमएलडी पानी की सप्लाई होती है। 400 एमएलडी गोमती नदी और शारदा नहर से आता और 305 एमएलडी पानी 610 नलकूपों और 141 मिनी नलकूप से मिलता है।

करीब दो दशक पहले सरोजनीनगर इलाके को नगर निगम सीमा में शामिल किया गया था, लेकिन पीने के पानी की आपूर्ति के लिए पाइप लाइन तक नहीं है। फैजुल्लागंज वार्ड तीन और चार में और चिनहट के पीछे वाले इलाकों के साथ ही रवींद्र पल्ली में भी जलकल की तरफ से पाइप लाइन नहीं बिछाई गई है। फैजाबाद रोड पर मारुतिपुरम में सोसाइटी ही खुद से पेयजल आपूर्ति करती है।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close