सेब का धंधा हुआ मंदा तो शुरू कर दी शराब तस्करी

उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले में वाहन चेकिंग के दौरान आईटीआई थाना पुलिस ने एक वाहन में लदी 71 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद की है। पुलिस ने वाहन चालक समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का कहना है कि पूर्व में वह सेब की सप्लाई के वाहन चलाते थे। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 लागू होने के बाद से सेब कारोबारियों का व्यवसाय बाधित हुआ है। आजकल वे खाली घूम रहे थे, चंडीगढ़ में रामपाल नाम का व्यक्ति उन्हें मिला। बातों-बातों में उसने उन्हें अपने साथ काम करने का ऑफर दिया। उसी के झांसे में आकर वह शराब के वाहनों की डिलीवरी देने लगे।

एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र ने शुक्रवार को बताया कि बृहस्पतिवार की रात आईटीआई थाना प्रभारी कुलदीप सिंह अधिकारी, एसआई कौशल भाकुनी और कपिल कांबोज आदि लोहियापुल पर वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। कुछ दूरी पर एक वाहन संख्या (यूके04/सीबी-1382) सड़क किनारे खड़ी मिली। तलाशी लेने पर उसमें 31 पेटी व्हीस्की और 40 पेटी स्पेशल व्हीस्की पाई गई।

पुलिस ने शराब कब्जे में लेकर वाहन सीज कर दिया है। यह गाड़ी हल्द्वानी निवासी बलजीत के नाम पंजीकृत है। पुलिस ने शराब तस्करी के आरोप में थाना खरड़, मोहाली (पंजाब) निवासी अमरीक सिंह और बिलासपुर (रामपुर) निवासी तरसेम सिंह को गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि मुरादाबाद के रामपाल ने उन्हें शराब की डिलीवरी के लिए भेजा था। उनसे कहा गया था कि काशीपुर पहुंचने पर तुम्हें एक व्यक्ति फोन करेगा। तुम उसे गाड़ी की चाभी सौंपकर वापस लौट आना। इसके लिए उन्हें तीन-तीन हजार रुपये मजदूरी मिलनी थी। पुलिस ने आरोपियों का आबकारी एक्ट में चालान किया है।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close