जानिए क्यों आप नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस में लेकर पहुंचे शराब की बोतलें ?

आप नेता नवीन जयहिंद सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में देशी व अंग्रेजी शराब की बोतलें लेकर पहुंच गए। उनका कहना था कि देशी बोतल सीएम मनोहर लाल खट्टर को गिफ्ट भेजूंगा तो अंग्रेजी बोतल डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को गिफ्ट भेजूंगा। वे सरकार द्वारा शराब ठेकों को बंद करवाने के लिए लाए जा रहे नए नियम का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार को पहली कलम से रिहायशी इलाकों में चल रहे ठेकों को बंद करने का आदेश देना चाहिए था।

बता दें कि हरियाणा सरकार जल्द ही यह नियम ला रही है कि जो भी ग्राम सभा या गांव के 10 प्रतिशत मतदाता अगर ये लिखकर दे देते हैं कि वे अपने गांव में ठेका बंद करवाना चाहते हैं तो उनके गांव से शराब का ठेका बंद कर दिया जाएगा। जयहिंद  का कहना है कि सरकार ने जो 10 प्रतिशत की शर्त लगाई है, वह गलत है। इस झंझट में कोई नहीं पड़ेगा।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में लेकर पहुंचे शराब की बोतलें, वजह जान कर नहीं होगा यकीन

भाजपा और जजपा ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में कहा था कि शराब ठेकों को गांव में खुलने नहीं दिया जाएगा। अब सरकार 10 प्रतिशत मतदाताओं के हस्ताक्षर की शर्त लगा रही है। सरकार ने पहली कलम से विधायकों के भत्ते बढ़ाने का काम तो कर लिया लेकिन ठेकों को बंद करवाने की बात नहीं की। जयहिंद ने कहा कि सरकार जनता का बेवकूफ बना रही है। सरकार को 10 प्रतिशत लोगों के हस्ताक्षर की शर्त लगानी थी तो उसे बंद करवाने की बजाए खुलवाने पर लगानी थी, कि जिस भी गांव के लोगों को लगता है कि उनके गांव में ठेका खुलना चाहिए, वे 10 प्रतिशत मतदाता हस्ताक्षर कर खुलवा सकते हैं।

जयहिंद ने कहा कि सरकार को तय करना है कि नौजवानों को दूध पिलाना है या शराब पिलानी है। विधानसभा में इसके लिए स्पेशल सेशन बुलाया जा रहा है। विपक्ष को इसका विरोध करना चाहिए। पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को इसका विरोध करना चाहिए, वे विपक्ष के नेता हैं। जयहिंद ने कहा कि यदि सरकार ने ऐसा किया तो वे पूरे हरियाणा में सरकार के खिलाफ अभियान चलाएंगे और शराब की बोतलें इकट्ठा करके सीएम और डिप्टी सीएम के पास भेजेंगे।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close