ठंडा मतलब कोका कोला

इस टैग लाइन को आपने ज़रूर सुना होगा ‘ ठंडा मतलब कोका कोला ‘, इसका प्रयोग भले ही कंपनी ने अपने प्रोडक्ट को ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए इस्तेमाल किया हो। लेकिन, इसमें शक नहीं कि कोका कोला में इसे इस्तेमाल करने वालों को अपना दीवाना बनाने की भरपूर क्षमता है।

एक ज़माने में कोका कोला सुनकर लोग सोचते थे कि कोका का मतलब है इसमें कोकीन मिलाई जाती है। जिससे लोग उसके आदी हो जाते हैं। हालांकि सच ये था कि उसमें कोका की पत्तियों का रस मिलाया जाता था। आज बच्चा बच्चा कोका कोला के बारे में जानता है।  लेकिन क्या आप इसके इतिहास के बारे में कुछ जानते हैं?

कोका कोला नाम के पेय का आविष्कार, अमरीका के अटलांटा शहर के केमिस्ट जॉन पेम्बर्टन ने किया था। अमेरिका के गृह युद्ध में ज़ख़्मी पेम्बर्टन को मॉरफ़ीन की लत लग गई थी। उससे छुटकारा पाने के लिए पेम्बर्टन ने शराब में कोका की पत्तियों का रस मिलाकर पीना शुरू किया, अच्छा लगा तो उसे बेचना भी शुरू कर दिया।

शराब में कोका की पत्तियों का रस मिलाने की वजह ये भी थी कि अटलांटा की सरकार ने शराबबंदी का सख़्त क़ानून बना दिया था। इसी से बचने के लिए पेम्बर्टन ने ये नया नुस्ख़ा तैयार किया था। असल में कोका कोला में जो पहला शब्द यानी कोका है, वो इसमें मिलाए जाने वाले कोका की पत्तियों के रस की वजह से है। इसे तो कमोबेश सब जानते हैं या मानते हैं, मगर इसके साथी ‘कोला’ की कहानी क्या है, वो हम आपको बताते हैं।

असल में ये कोला शब्द आया है, Kola नाम के नट से,कोला नाम का ये बीज, पश्चिमी अफ्रीका के एक पेड़ का होता है। कोला की हरे रंग की फली होती है, जो क़रीब दो इंच लंबी होती है। इसमे सेम के बीज जैसा गुदाज़ फल होता है, इसका रंग भूरा और लाल रंग का होता है। पश्चिम अफ़्रीका में लोग इसे ताक़त बढ़ाने के लिए सुपारी की तरह चबाते थे।

अमेरिकन केमिस्ट पेम्बर्टन ने कोला और कोका के स्वाद के मेल से तैयार अपना ड्रिंक बाज़ार में उतारा तो लोगों ने उसे ख़ूब पसंद किया। पहले ही साल लोग औसतन कोका कोला की नौ ड्रिंक पी रहे थे। आज दुनिया भर में रोज़ कोका कोला की क़रीब दो अरब बोतलें रोज़ बिकती हैं।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close