VIP क्षेत्रों में बंद होंगे शराब के ठेके

यूपी की राजधानी लखनऊ के वीआइपी क्षेत्रों में स्थित शराब की दुकानें और हुक्का बार से भविष्य में  किसी अनहोनी होने का संकेत यूपी पुलिस  को मिल रहें है का संकेत दे रहे हैं।  पुलिस ने भी इस खतरे को भांपा है। हजरतगंज पुलिस ने तो एक गोपनीय रिपोर्ट तैयार कर एसएसपी को भेजी है। एसएसपी ने 28 अगस्त को इस रिपोर्ट को गृह विभाग को भेजा है।

इसमें वीआइपी क्षेत्र में पांच सौ मीटर के दायरे में चल रहे शराब के ठेके, मॉडल शॉप, बार और हुक्का बार को हटाने की सिफारिश की गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वीआइपी क्षेत्र से इन दुकानों को वीआइपी मूवमेंट की सुरक्षा को ध्यान में रखकर हटाना उचित होगा। ऐसे में अब मुख्यमंत्री आवास कालिदास मार्ग, मुख्यमंत्री सचिवालय लोकभवन, विधानभवन और राजभवन के आसपास पांच सौ मीटर के दायरे में इनकी बिक्री पर प्रतिबंध लग सकता है।

हजरतगंज कोतवाली के साथ ही गौतमपल्ली थाने की पुलिस ने भी इन दुकानों और बार से सुरक्षा में सेंध लगने की आशंका का जिक्र किया था। एसएसपी ने जिलाधिकारी के साथ-साथ अपर मुख्य सचिव, अपर पुलिस महानिदेशक (सुरक्षा मुख्यालय), अपर पुलिस महानिदेशक लखनऊ जोन, आयुक्त लखनऊ मंडल, पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ परिक्षेत्र, नगर आयुक्त, जिला आबकारी अधिकारी को रिपोर्ट भेजी है। इसमें मुख्यमंत्री आवास कालिदास मार्ग, मुख्यमंत्री सचिवालय लोकभवन, विधानभवन और राजभवन के आसपास पांच सौ मीटर के दायरे में चल रहे शराब के ठेकों, मॉडल शॉप, बार और हुक्का बार को हटाने को कहा गया है।

कैपिटल के पास ही शराब और बीयर की दुकानें हैं, जो विधानभवन और राजभवन से नजदीक हैं। पुलिस के मुताबिक यहां आसपास शराब पीने वालों का जमावड़ा लगा रहता है और हंगामे की सूचना के कारण पुलिस को मौके पर पहुंचना पड़ता है। इसी तरह हुसैनगंज के पास भी शराब का ठेका है और यह ठेका भी विधान भवन और लोकभवन के पांच सौ मीटर के दायरे में आ जाएगा।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close