शराब की बोतलों पर लगाई बापू की तस्वीर, हंगामा

इजरायल की शराब कंपनी माका ब्रेवरी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान किया है। कंपनी ने अपनी शराब की बोतलों और केनों पर महात्मा गांधी के चित्र छापे हैं। कंपनी की करतूत पर कड़ी आपत्ति जताई गई है।

केरल के महात्मा गांधी मेमोरियल फांउडेशन ने शराब की बोतलों पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चित्र छापे जाने को लेकर इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामीन नेतन्याहू तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिकायत करके इजरायली कंपनी के खिलाफ उचित कार्रवाई का आग्रह किया है। कोट्टायम के पाला स्थित फाउंडेशन के अध्यक्ष ऐबी जे जोस ने रविवार को दोनों प्रधानमंत्रियों को पत्र लिखकर शिकायत की कि इजरायल के ताफेन औद्योगिक क्षेत्र स्थित माका ब्रेवरी कंपनी ने अपनी शराब की बोतलों और केनों पर राष्ट्रपिता के चित्र छापे हैं।

द बैटल ऑफ वाइन…यानी क्वालिटी की जंग

रूस में वोदका ही बन रही मौत की वजह

वल्र्ड कप में बोल्ड, इतनी पी कि समुद्र तट पर पड़े मिले

हजार तरह की काॅकटेल वाला बवेरिया का हैमिंग्वे बाॅर

कोट्टयम में पाला स्थित फाउंडेशन के अध्यक्ष ने इसे शराब निर्माता कंपनी की ओर से अनुचित आचरण करार देते हुए कहा कि शराब की बोतलों पर छापे गये चित्र को अमित शिमोनी नाम के व्यक्ति ने डिजाइन किया है। जोस ने कहा, “गांधी के चित्रों का मजाक उड़ाया गया है। अमित की वेबसाइट हिपस्ट्रॉरी डॉट कॉम पर गांधीजी के चित्र कूलिंग ग्लास, टी-शर्ट और ओवरकोट पर दिखाया गया है।”

राष्ट्रपिता के चित्रों को शराब की बोतलों और वेबसाइटों से हटाने के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग करते हुए जोस ने कहा कि राष्ट्रपिता के रूप में जाने जाने वाले बापू, अहिंसा की दुनिया के सबसे प्रशंसित पैगंबर हैं। पीएम मोदी और नेतन्याहू को लिखे पत्र में, उन्होंने आग्रह किया कि माका ब्रेवरी को गांधी के चित्र वाली शराब की बोतलों और केनों को जल्द से जल्द वापस लेने का निर्देश दिया जाए।

उन्होंने कहा कि गांधीजी, जिन्होंने शराब के उपभोग और प्रचार के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया, ने एक मौके पर कहा था कि सत्ता मिलने के बाद वह एक ही बार में देश में सभी शराब निर्माण कंपनियों और उसकी बिक्री बंद कर देंगे।

चीयर्स  डेस्क 

loading...
Close
Close