क्वारी नदी का दूषित पानी पीने को मजबूर है लोग

मध्यप्रदेश के शेओपुर जिले विजयपुर नगर में क्वारी नदी का पानी काला और हरा पड़ गया।  इस पानी का इस्तेमाल अब किसी भी काम में नहीं किया जा सकता है। लेकिन यही पानी नालो के द्वारा लोगो के घरो तक पहुंचाया जा रहा है। नदी के पानी को साफ़ करने के लिए 15 करोड़ की लागत से फिल्टर प्लांट लगाने की योजना थी, लेकिन ठेकेदार ने इसका काम बंद कर दिया है। ऐसे में नदी से पानी सीधा लोगों के घर तक सप्लाई किया जाता है। शुरुआती आधे घंटे तक तो मटमैला और बदबूदार ही सप्लाई होता है। लोगों का कहना है कि इससे पेट संबंधी बीमारियां उत्पन्न हो रही हैं, जबकि वाटर ट्रीटमेंट प्लांट शुरू होता है तो लोगों को फिल्टर आरओ का पानी पीने को मिलने लगेगा।

नदी में पांच नालों से गंदगी बहाई जा रही

पूरे विजयपुर में नालियों के पानी की निकासी के लिए पांच नाले बनाए गए हैं, लेकिन इन नालों को सीधा क्वारी नदी में बहाया जा रहा है। जिनमें तीन नालों को बस स्टैंड की ओर से तो दो नालों को विजयपुर मंडी की ओर से डायवर्ट करते हुए सीधा नदी में मिलाया गया है। इससे नगर का सारा गंदा पानी नदी को प्रदूषित कर रहा है, जबकि नालों से भरी इस नदी के पास ही परिषद ने पांच बोर कराए हैं, इसके अलावा एक कुआं तो नदी के बीच और दूसरा नदी के किनारे पर बना हुआ है। जिसमें पूरा पानी मटमेला दिखाई देता है।

चियर्स डेस्क 

loading...
Close
Close