हैंगओवर और शर्मिंदगी से बचें

शराब पीना सेहत के लिए खतरनाक है। लेकिन इसके बावजूद जाम छलकाते हुए लोग अक्सर बहुत ज्यादा पी जाते हैं और अगले दिन हैंगओवर, सिरदर्द या थकान से परेशान रहते हैं। हैंगओवर और शराब संबंधी परेशानियों से बचने के कुछ तरीके शराब उपभोक्ताओं के लिए यहां प्रस्तुत हैं।

1-खूब पानी पिएं

शराब में मौजूद अल्कोहल को शरीर बड़ी तेजी से सोखता है। अल्कोहल खून में घुलकर पानी के अणुओं को तोड़ता है। इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है। लिहाजा जिस दिन पार्टी हो, उस दिन सुबह से ही खूब पानी पिएं। हर ड्रिंक के बाद पानी पीना भी फायदेमंद है। ऐसा करने से लोग बहुत ज्यादा पीने से भी बच जाते हैं।

2- खाली पेट न रहें

मदिरापान सेहत के लिए अच्छा नहीं है लेकिन इसके बावजूद अगर आप जश्न के तौर पर पीना ही चाहते हैं तो खाली पेट न पिएं। शराब पीने से कम से कम डेढ़ दो घंटे पहले अपनी खाने की खुराक का तीन चैथाई हिस्सा खा लें।

3-व्हिस्की या रम

बहुत सारे लोग व्हिस्की या रम में पानी की जगह कोला या कुछ और मीठा पेय मिलाते हैं, हैंगओवर से बचना है तो ऐसा न करें। मीठे पेयों में मौजूद शुगर अल्कोहल के साथ मिलकर शरीर को चार्ज कर देती है। लेकिन इसका असर अगले दिन पता चलता है व्हिस्की या रम जैसे हार्ड ड्रिंक्स में खूब पानी मिलाएं।

4-मीट से दूरी

भारत में अक्सर लोग चिकन या मटन के साथ शराब पीना पसंद करते हैं, यह शरीर के लिए बहुत अच्छा नहीं है। असल में लोग शराब पीने के साथ काफी मात्रा में मीट खा जाते हैं, जिसके चलते अगले दिन पाचन गड़बड़ाता है और शरीर व दिमाग बुझा बुझा सा रहता है।

5-फल, सलाद, सूप

पार्टी वाले दिन पहले से ही फल और खूब सलाद खाएं। ऐसा करने से शरीर को पर्याप्त पोषण मिल जाता है। अगले दिन शरीर विटामिन और खनिजों के लिए तरसता नहीं है। शराब के पैग के साथ सूप लेना भी शरीर के लिए फायदेमंद होता है।

6-मिक्स न करें

बहुत सारे लोग अलग अलग ड्रिंक मिक्स कर देते हैं, ऐसा न करें। हर ड्रिंक शरीर पर अलग अलग ढंग से प्रतिक्रिया करता है। मिक्स करने से शरीर बहुत ज्यादा तनाव में आ जाता है।

7-उल्टी करने में न शर्माएं

बहुत सारे युवाओं या लोगों को लगता है कि उल्टी करना शर्मिंदगी है। ऐसा न सोचें। उल्टी आने का मतलब है कि शरीर बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है और हानिकारक तत्वों को बाहर करना चाह रहा है। जी मचलने लगे तो टॉयलेट में जाकर उल्टी कर दें। ऐसा करने से आप खुद को और दूसरों को भी सहज बनाए रखेंगे।

8-सिगरेट से तौबा

एक ड्रिंक मारा नहीं कि सिगरेट निकल आई, बहुत सारे लोग ऐसा करते हैं। सिगरेट शराब के नशे को और तेज करती है। असल में खून में मौजूद अल्कोहल जब निकोटिन से प्रतिक्रिया करता है तो दिमाग पर इन दोनों का बेहद खराब असर पड़ता है।

9-फटाफट न गटकें

कुछ लोग सटासट शराब पीते हैं, ऐसा न करें। शरीर में अचानक अल्कोहल की बहुत ज्यादा मात्रा घातक हो सकती है। कोशिश करें कि कम पिएं।

10-आंखों पर पानी छपकाएं

बीच बीच में आंखों पर ठंडा पानी छपकाना भी काफी फायदेमंद होता है। आंखों में ठंडा पानी पड़ते ही कुछ पल के लिए नशे का असर कम होता है और आप वास्तविकता में लौट आते हैं।

11-ताजा हवा लें

एक ही जगह बैठे रहने के बजाए बीच बीच में बाहर निकलकर ताजा हवा लें। उठने और चलने पर आपको अपनी स्थिति का सही अहसास होगा और फैसला लेने में मदद मिलेगी।

12-खुद पर नियंत्रण रखें

उतना ही पियें कि होश रहे. किसी बात पर गुस्सा करने या उत्तेजित होने के बजाए, उसे टाल दें, ठंडे दिमाग से काम लें। कुछ पल का नशा इंसानियत पर भारी नहीं पड़ना चाहिए।

13-गाड़ी न चलाएं

यह बात हैंगओवर से नहीं जुड़ी है, लेकिन इसके बावजूद हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए। शराब पीने के बाद गाड़ी चलाकर अपनी और दूसरे की सुरक्षा खतरे में न डालें। जश्न किसी के लिए अभिशाप नहीं बनना चाहिए।

14-जिम्मेदारी निभाएं

सोने से पहले बाथरूम की लाइट और नल चेक कर लें। रोजमर्रा की जिंदगी के सारे काम पूरे करें। वरना अगले दिन ताने सुनने पड़ेंगे।

15-भरपूर नींद लें

अगले दिन हैंगओवर से बचने के लिए अच्छी नींद बहुत जरूरी है। अक्सर बहुत ज्यादा शराब पीने से अच्छी नींद नहीं आती, बदन बस बेसुध पड़ा रहता है। सिराहने पर पर्याप्त पानी रखें ताकि रात में उठकर दूर न जाना पड़े।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close