शिमला में सस्ता होगा पीने का पानी

हिमाचल की राजधानी शिमला में पीने का पानी सस्ता होगा। नगर निगम ने शहर के लोगों को दिवाली का बड़ा तोहफा देते हुए घरेलू और व्यावसायिक उपभोक्ताओं की पेयजल दरें घटाने का फैसला लिया है। घरेलू उपभोक्ताओं की पेयजल दरें 16.50 रुपये से घटाकर 14 रुपये और व्यावसायिक उपभोक्ताओं की पेयजल दरें 44 रुपये से घटाकर 25 रुपये प्रति किलोलीटर करने का प्रस्ताव पारित किया गया। नगर निगम सदन से पारित होने के बाद अब इस प्रस्ताव पर पेयजल कंपनी की बीओडी अंतिम फैसला लेगी। बीओडी यदि मंजूरी देती है तो हजारों लोगों को भारी भरकम बिलों से राहत मिल जाएगी।

 पार्षद दिवाकर शर्मा, शैलेंद्र चौहान, राकेश चौहान, कमलेश मेहता ने पेयजल दरें घटाने की मांग की। कहा कि वर्तमान दरें काफी ज्यादा हैं। सदन में काफी देर चर्चा होने के बाद व्यावसायिक दरें 44 से घटाकर 25 रुपये प्रति किलोलीटर करने का फैसला लिया गया। नई दरें कोर एरिया के व्यावसायिक उपभोक्ताओं पर भी लागू होंगी।

कोर एरिया के पार्षदों का हंगामा

मर्ज एरिया के रेट कम होते ही कोर एरिया के पार्षदों ने हंगामा कर दिया। पूछा कि जब व्यावसायिक उपभोक्ताओं के रेट 44 से 25 रुपये हो सकते हैं तो कोर एरिया के घरेलू उपभोक्ताओं के रेट क्यों नहीं घटाए जा रहे। आयुक्त ने पार्षदों को समझाया कि कोर एरिया के व्यावसायिक उपभोक्ताओं पर भी ये दरें लागू होंगी। दूसरा कोर एरिया की दरें घटाने का प्रस्ताव सदन में नहीं आया है तो इस पर चर्चा नहीं हो सकती। लेकिन पार्षद आरती चौहान, किमी सूद, सत्या कौंडल, किरण बावा कोर एरिया की घरेलू दरें 16 रुपये से कम करने पर अड़ गए। पार्षदों ने मेयर को घेर लिया। पूछा कि कोर एरिया को क्या राहत मिल रही है।

हंगामा बढ़ने के बाद फैसला लिया गया कि कोर एरिया के घरेलू उपभोक्ताओं की पेयजल दरें 16 से घटाकर 14 रुपये प्रति किलोलीटर करने का प्रस्ताव भी अब बीओडी के पास भेजा जाएगा। हालांकि, इसे मंजूरी मिलने की उम्मीद कम है। बीओडी ने अभी सिर्फ मर्ज एरिया के उन लोगों को राहत देने के लिए प्रस्ताव लाने को कहा था जो 44 रुपये प्रति किलोलीटर की दर से मिल रहे पानी को पीने को मजबूर हैं।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close