शराब को लेकर ये क्या बोल गए बिहार के डीजीपी !

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने रविवार को सोनपुर मेले में अपराध निरोध की प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद राज्य के 33 एसपी और 47 डीएसपी समेत सभी स्तर के 600 पुलिसकर्मियों को  प्रशस्ति पत्र और राशि देकर पुरस्कृत किया।  मेले में  बारह वर्षों के बाद पुलिस पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। उन्होंने जोर देकर कहा कि बिहार पुलिस हर प्रकार की चुनौतियों का सामना करने को तैयार है। राज्य में 2020 तक और  22,500 सिपाहियों और 4500 सब इंस्पेक्टरों की बहाली कर ली जाएगी उन्होंने भाषण में कहा कि जब तक लोग बिहार में शराब पीते रहेंगे तब तक शराब बिकती ही रहेगी।

आपको बता दें कि सोनपुर मेला में हर साल अपराध अनुसंधान विभाग के द्वारा पुलिस प्रदर्शनी लगया जाता है। इसमें यह दिखया जाता है कि बिहार की पुलिस कितनी शशक्त है। साथ ही बिहार पुलिस अपनी उपलब्धियों की भी प्रदर्शनी लगाती है।

प्रदर्शनी के उद्घाटन के बाद मेला के पर्यटन विभाग के मुख्य पंडाल में एक दशक बाद पुलिस-पब्लिक पुरस्कार वितरण समारोह का भी आयोजन किया गया जिसमें बिहार के 33 आईपीएस, 47 डीएसपी, 35 इंस्पेक्टर, 141 सब इंस्पेक्टर, 20 सहायक अवर निरीक्षक, 11 हवलदार, सहित कुल 299 पुलिसकर्मियों को बेहतर कार्य के लिए सम्मनित किया गया।

प्रारंभ में सीआईडी के एडीजी विनय कुमार ने पुलिस पुरस्कार वितरण समारोह के संबंध में चर्चा करते हुए सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर स्पेशल ब्रांच के डीजी जीतेन्द्र गंगवार, ट्रेनिंग आईजी आलोक राज, एडीजी विधि-व्यवस्था अमित कुमार आदि अनेक वरीय पुलिस पदाधिकारी मंच पर उपस्थित थे।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close