शराब का असली मज़ा तो डेढ़ पैग या 80 एमएल में ही है

शराब कितनी पीना चाहिए, ये सवाल हमेशा बना रहेगा, पीने वाले चाहें जितनी पिएं पर इस पर बहस होती ही रहेगी। लेकिन सच ये है कि जो मज़ा डेढ़ पैग शराब पीने में है, वह तीन या चार पैग पीने में नहीं है। शराब का असली मज़ा लेना है तो डाॅक्टर भी एक बार में 80 मिलीलीटर शराब पीने को ही रिकमंड करते हैं। स्वास्थ्य की चिंता हर शराब उपभोक्ता को करनी ही चाहिए, क्योंकि शरीर स्वस्थ है तभी शराब पी जा सकती है और अगले दिन की भी चिंता होनी चाहिए कि रात में शराब पीने से पहले अगली सुबह ड्राइविंग कैसे करेंगे। अगर चिंता होती है तो इस प्रश्न का उत्तर जानने के लिए आपको पहले यह जानना होगा कि शराब पीने का असर आपके शरीर के विभिन्न अंगों में कितनी देर तक रहता है।

शरीर में शराब का प्रभाव

शराब का असर इस बात पर निर्भर करता है कि आपका शरीर कितनी तेजी से शराब को मेटाबॉलाइज करने में सक्षम है। ज्यादातर लोगों का शरीर हर घंटे सेवन किए गए शराब की आधी मात्रा को मेटाबॉलाइज करने में सक्षम होता है। जैसे कि अगर आपने 0.08 लीटर (80 मिलीलीटर) शराब के सेवन करने के बाद पीना बंद कर दिया, तो दो घंटे में आपके सिस्टम में केवल 0.05 लीटर शराब की मात्रा बचेगी।

ब्लड अल्कोहल कॉन्सन्ट्रेशन लेवल को मुंह की दुर्गंध से पता लगा लेता है कि आपके रक्त में अल्कोहल की कितनी मात्रा है या आपने कितना ड्रिंक किया है। अगर आपके खून में डीयूआई का लेवल 0.08 है तो ऐसी स्थिति में ड्राइविंग के दौरान ध्यान भटकना, स्पीड पर कंट्रोल ना होना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है जो कि खतरनाक होता है। इस प्रभाव में ड्राइविंग (Driving Under The Influence & DUI) माना जाता है।

यदि आपका वजन लगभग 72 किलोग्राम है, तो शराब का चार पैक ही आपके डीयूआई लेवल को वहां तक पहुंचाने के लिए पर्याप्त हैं। लेकिन आपके लिए यह समझना महत्वपूर्ण है कि हर व्यक्ति का शरीर अलग प्रकार का होता है और शराब का प्रभाव उनमें अलग-अलग तरह से होता है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अगर आपने शराब यानि अल्कोहल का इस्तेमाल किया है, तो इसका पता मूत्र की जांच में चल जाता है और इसकी मौजूदगी मूत्र में 3 से 5 दिन तक रहती है। वहीं खून में इसका असर 10 से 12 घंटे तक रहता है और अगर बालों की जांच हो, तो इसमें 90 दिनों तक शराब का असर रहता है।

आपकी जानकारी के लिए नीचे अलग-अलग प्रकार के शराब में मौजूद अल्कोहल का परसेंटेज बताया गया है। इससे आपको यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि आपने कितनी मात्रा में शराब का सेवन किया है और आपके शरीर में इसका प्रभाव कितने समय तक रहेगा।

वोदका 40-95%
जिन 36-50%
रम  36-50%
व्हिस्की 36-50%
टकीला 50-51%
लिकर 15%
फोर्टीफाइड वाइन 16-24%
अन्फोर्टीफाइड वाइन 14-16%
माल्ट बेवरेजरू 15%
बीयर 4-8%

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close