वोट के बदले आरओ का पानी देने के वादे

हरियाणा चुनावी समर में पार्टी प्रत्याशी व निर्दलीय अजब गज़ब वादे करते नज़र आ रहे हैं। हिसार सिटी विधानसभा एरिया में चुनाव लड़ रहे सभी प्रत्याशी शुद्ध पेयजल व कोई तो आरओ का पानी उपलब्ध कराने तक के वादे कर रहा है। मगर हैरानी की बात है कि शहर पिछले कई महीनों से पानी की जबरदस्त किल्लत झेल रहा है। कई लोगों के घरों में पीने का पानी तो दूर हाथ धोने तक का पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा।

मौसम में बदलाव के चलते भी अब भी लोग खरीदकर पानी पी रहे हैं। हैरानी की बात है कि इस साल  पानी को लेकर पॉश इलाकों के लोगों ने भी परेशानी झेली है। वहीं त्योहारी सीजन के चलते घरों और संस्थानों में साफ सफाई को लेकर भी पानी की कमी सामने आ रही है।

दरअसल, शहर में हुडा, पब्लिक हेल्थ विभाग की इरीगेशन डिपार्टमेंट के साथ चल रही खींचतान के कारण ये परेशानी हो रही है। शहर में पानी की सप्लाई उपलब्ध कराने वाले विभागों की इरीगेशन के अधिकारियों के साथ झड़प तक हो चुकी है। हुडा व इरीगेशन के अधिकारियों का मामला थाने तक पहुंचा हुआ है। कुछ अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ केस तक दायर है। आपसी खींचतान का हर्जाना जनता भुगत रही है। मौजूदा सरकार हो या अन्य राजनीतिक दल इस मसले को सुलझाने पर कतई ध्यान ही नहीं दे रहे। हालांकि इसमें गलती दोनों विभागों की है। डिमांड के अनुसार इन विभागों ने पानी सेंक्शन नहीं कराया। अब कानून तोड़कर साइफन लगाया जाता है तो इरीगेशन जल्दी से अनुमति नहीं देता। ऐसे में स्टोरेज टैंक सूख जाते हैं।

 शहर के हालात

शहर में लोग टैंकरों से पानी मंगवाकर पी रहे हैं। पीने के लिए कुछ लोगों ने नियमित कैंपर तक मंगवाने शुरू कर दिए हैं। कुछ इलाकों में पार्क में लगे सबमर्सिबल से पाइपें लगाकर लोग घरों के वाटर टैंक भर रहे हैं। हुडा के वाटर टैंक में एक-एक फीट तक पानी है। अधिकारी कहते हैं कि नहर में पानी आ गया है तीन से चार दिन में स्थिति सामान्य हो जाएगी। सेक्टर 9-11, अर्बन इस्टेट, सेक्टर 13, सेक्टर 16-17, सेक्टर 15, पीएलए में ऐसे ही हालात हैं। सुबह उठते ही सबसे पहले पानी की जरूरत पड़ती है। मगर छत पर रखी टंकियों में पानी न होने से लोगों को खूब परेशानी झेलनी पड़ रही है।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close