विराट कोहली के लिए फ्रांस से आता है पीने का पानी

टीम इंडिया के कप्तान और स्टार क्रिकेटर विराट कोहली आज किसी भी परिचय के मोहताज नहीं हैं। अपनी कड़ी मेहनत और इच्छाशक्ति के बलबूते ही उन्होंने आज ये मुकाम हासिल किया है। कोहली की सफलता के पीछे एक बड़ी वजह उनकी फिटनेस भी है। खुद को फिट और हमेशा एक्टिव रखने के लिए विराट खासी मशक्कत भी करते हैं। अपनी फिटनेस के लिए वे अपने खाने-पीने का ख्याल तो रखते ही हैं। इसके साथ ही वे सुबह और शाम को जिम जाना कभी नहीं भूलते।फिटनेस के लिए विराट कोहली खाने में कभी कंजूसी नहीं करते हैं, लेकिन जंक फूड से हमेशा दूरी बनाकर ही रखते हैं। हालांकि घर का खाना खाने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होती है।

फ्रांस से आता है पीने का पानी
विराट की फिटनेस में पीने का पानी भी एक बहुत बड़ा फैक्टर है। विराट कोहली सिर्फ बाहर के खाने से ही नहीं, बल्कि वो बाहर का पानी पीने से भी दूरी बनाकर रखते हैं। वो एक खास तरह का पानी पीते हैं। बताया जाता है कि विराट कोहली जो एवियन पानी पीते हैं, वो काफी महंगा होता है और उसे फ्रांस से मंगाया जाता है।
600 रुपए प्रति लीटर का पानी पीते हैं
विराट एवियन नाम का मिनरल पानी पीते हैं जो कि उनके लिए फ्रांस से मंगाया जाता है। इस पानी की एक लीटर बोतल की कीमत 600 रुपए है। इसी तरह ऐसे और भी कई सेलिब्रिटी हैं जो कि एक लीटर पानी की बोतल पर 36 हजार रुपए तक का खर्चा करते है।

अन्य महंगे ब्रांडस
पहले हम बात करते हैं जापान निर्मित कोना निगारी मिनरल वॉटर की। इसके विज्ञापनों में बताया जाता है कि इसका पानी वजन घटाने, तनाव दूर रखने और आपकी त्वचा को अच्छा रखने का काम करता है। इस पानी की कीमत 26 हजार रुपए प्रति लीटर है।जापान के ओसाका की फिल्लीको पानी की बोतल की कीमत 14 हजार रुपए प्रति 750 मिलीलीटर है। इस बोतल का रूप ही लोगों को अपनी और आकर्षित करता है। इन बोतल को चेस खेल के राजा-रानी का रूप दिया गया है। इन बोतलों का ढक्कन स्वर्ण ताज वाला है जो कि आपने आप में राजस्वी गौरव प्रदर्शित करता है।

इस तरह और भी कई देशों ने ऐसी पानी की बोतलें बनाई हैं, जिनका दाम तो ज्यादा है ही साथ ही इन बोतलों की बनावट लोगों को आकर्षित करती है।
विश्व के जाने-माने डिजायनर्स इसकी बॉटल की डिजाइन करते हैं और ये इन बॉटल्स का उत्पादन सीमित मात्रा में होता है। इसके अलावा एवियन उन गिने चुने मिनरल वाटर ब्रांड में से एक है जो स्वच्छ पेयजल के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने जो मानक तय किए हैं उन पर खरा उतरता है।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close