मिनरल्स के खेल में पैसे कमाती आरओ कम्पनियां

आरओ वाटर के लिए जब घर में कोई आरओ लगाने इंजीनियर आता है तो वह सबसे पहले आप को मिनरल्स के लिए अलग से मिनरल कैंडल लगवाने के लिए कहता है। आरओ खरीदने वाला उपभोक्ता इस बात को कम ही जानता है कि उसने जो आरओ खरीदा है या लगाने का आर्डर किया है, उसमें मिनरल नहीं होते हैं।

आरओ लगवाने वाले अधिकांश उपभोक्ताओं का कहना है कि आरओ को खरीदते समय यह नहीं बताया जाता है कि आरओ वाटर में बिना मिनरल के होता है। जब आरओ घरों में लगाने के लिए एक्जीक्यूटिव आता है तो वह साथ में तीन या चार प्रकार के मिरनल कैंडल ले कर आता है और बताता है कि इनमें से कोई एक दो लगवा लीजिए तो पानी हेल्थ के हिसाब से अच्छा हो जाएगा। पूछने पर पता चलता है कि आरओ की खरीद में मिनरल कैंडल शामिल नहीं होती है।

गाजियाबाद की एक आरओ उपभोक्ता ने बताया कि उन्होंने प्योरीफायर के बाद जब आरओ लगवाया तो उन्हें कम्पनी वालों ने यह नहीं बताया कि आरओ का पानी बिना मिनरल के होता है। हमने टीवी और अखबार में विज्ञापन देखा था कि आरओ का पानी पीने से बीमारियों से बचा जा सकता है। इसी कारण हमने पैसे बचा बचा कर आरओ खरीदा और जब इंजीनियर लगाने आया तो उसने मिनरल कैंडल की बात की। इनकी कीमत पांच हजार बताई, उसी ने बताया कि बिना मिनरल कैंडल के आरओ बेकार है।

इस प्रकार की कई कम्पनियों की शिकायतें बहुत ढेर सारे उपभोक्ता कर चुके हैं। आरओ कम्पनियां यह नहीं बताती हैं कि आरओ का पानी दरअसल बिना मिनरल के होता है। सादे पानी से आरओ जब पानी परिवर्तित करता है तो पानी के प्राकृृतिक मिनरल आरओ प्रक्रिया में किल हो जाते हैं। साधारण पानी से आरओ पानी परिवर्तन की यह प्रक्रिया वास्तव में पानी के सभी स्वाभाविक प्राकृृतिक गुणों का सर्वनाश करने वाली है।

इसी कारण जब कोई आरओ कम्पनी अपना आरओ लगाने की बात करती है तो मिनरल कैंडल अलग से लगवाने की बात करती है, बल्कि उपभोक्ता को मजबूर करती है मिनरल कैडल लगवाने के लिए ताकि उसका पानी नुकसान न करे। क्योंकि बिना मिनरल पानी पेट के लिए फायदे के बजाए नुकसान करता है। और यह तो मिनरल कैंडल होते हैं, वह प्राकृृतिक न होकर केमिकल आधारित होते हैं। यह अलग प्रकार से पेट को नुकसान पहुंचाते हैं और पेट को कंडीशन्ड भी कर देते हैं।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने आरओ वाटर को प्रतिबंधित करने का आदेश पहले ही पारित कर रखा है लेकिन केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारें आरओ वाटर को प्रतिबंधित करने के आदेश पारित करने की पहल नहीं कर पा रही हैं क्योंकि किसी भी सरकार के लिए आम आदमी को स्वच्छ पेय जल उपलब्ध कराने की मशीनरी समुचित मात्रा में उपलब्ध नहीं है।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close