बाराबंकी शराब कांड पर HC ने मांगा जवाब

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने बाराबंकी के रामनगर में पिछले दिनों जहरीली शराब पीने से हुई मौत मामले की सीबीआई जांच की मांग वाली जनहित याचिका पर प्रमुख सचिव गृह को हलफनामा दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, यूपी से जवाब तलब करते हुए संबंधित अधिकारियों को भी हलफनामे दाखिल करने को भी कहा। न्यायमूर्ति पंकज कुमार जायसवाल व न्यायमूर्ति जसप्रीत सिंह की खंडपीठ ने यह आदेश अधिवक्ता सत्येंद्र कुमार सिंह की पीआईएल पर दिया।

याचिका में जहरीली शराब कांड की सीबीआई जांच, दोषियों के खिलाफ कार्रवाई और मृतकों के परिवारीजनों उचित मुआवजा दिए जाने का आग्रह किया गया है। इस पर यूपी सरकार के वकील क्यूएच रिजवी ने कोर्ट को बताया कि घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। दोषियों के खिलाफ कुल नौ मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं।

बाराबंकी शराब कांड पर मांगा जवाब HC ने मांगा जवाब

मुख्यमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिवारीजनों को दो दो लाख रुपये बतौर मुआवजा दिए जा चुके हैं। इस मामले में अन्य आरोपियों के साथ ही एक आबकारी निरीक्षक को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस व आबकारी विभाग के कई कर्मियों को निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही की जा रही है। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई चार सप्ताह बाद नियत करते हुए प्रमुख सचिव गृह समेत अन्य पक्षकार अधिकारियों से जवाबी हलफनामा दाखिल करने को कहा है। राज्य सरकार को इस मामले में अपना जवाब विस्तार से देने के भी निर्देश दिए गए हैं।

चियर्स डेस्क 

loading...
Close
Close