पीने लायक नहीं रह गया यमुना का पानी, 2 लोगों की मौत

यूपी के बरसाना से शुरू हुई पद्मश्री रमेश बाबा की राधारानी ब्रज 84 कोसी परिक्रमा के दौरान हरियाणा की सीमा पर यमुना नदी का पानी पीने से एक  श्रद्धालु की मौत हो गई जबकि 25 और श्रद्धालुओं की हालत बिगड़ गई। इन्हें नौहझील, वृंदावन और कोसीकलां के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। बीते दिन वृद्ध की मौत के 24 घंटों के भीतर महिला की मौत होने पर चेते प्रशासन ने यमुना के पानी का नमूना लेने के साथ ही पदयात्रा के पड़ाव स्थल पर उपलब्ध खाद्य पदार्थों का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा है।

मान मंदिर से चली परिक्रमा में हरियाणा के महरौली से अलीगढ़ के जैदपुरा क्षेत्र जाते वक्‍त रस्से के सहारे यमुना नदी पार करते वक्‍त कई श्रद्धालुओं ने नदी का पानी पी लिया था। उनकी हालत बिगड़ी तो उन्हें आसपास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया। इनमें से दस श्रद्धालु नौहझील के अस्पताल में भर्ती कराए गए। इनमें पश्चिम बंगाल के कपूरगंज मालदा निवासी रामकृष्ण सरकार (69) पुत्र नित्यगोपाल की मौत महरौली में हो गई थी।

बुधवार को 24 और यात्रियों को नौहझील, कोसीकलां और वुंदावन के अस्पतालों में भर्ती कराया गया। 8 लोगों को बुंदावन लाया गया जहां इलाज के दौरान पश्चिमी बंगाल के 24 परगना निवासी शांति पात्रा (60) की मौत हो गई है।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close