पहले शराब ज़ीस्त थी अब ज़ीस्त है शराब,

पहले शराब ज़ीस्त थी अब ज़ीस्त है शराब,
कोई पिला रहा है पिए जा रहा हूँ मैं।

Jigar Moradabadi

loading...
Close
Close