पत्रकारों को महंगी पड़ी मेहमाननवाजी

वैसे तो सरकारी आयोजनों में पत्रकारों की मेहमाननवाजी कोई नई बात नहीं है। लेकिन ‘Magnificent MP’ के आयोजन को कवर करने गए पत्रकारों की जो मेहमाननवाजी हुई उसे वो जिंदगी भर याद रखेंगे। इंदौर में हुए इस इवेंट में वैसे तो पत्रकारों का रहना-खाना फ्री था पर जो जाम छलकाए गए उसके पैसे उनसे चेकआउट के दौरान जमा करवाये गए। कहाँ फाइव स्टार होटल के सुख भोगने गए थे और हो गयी बेइज्जती !

इतना ही नहीं, दिल्ली से आये पत्रकारों और मध्यप्रदेश के पत्रकारों के रुकने की व्यवस्था के स्तर में भी अंतर था। उफ्फ! बेचारे कुछ पत्रकार तो बड़ी मेहनत से डेलीगेट के पास जुगाड़कर गये थे। वापसी में तो सांप ही लोट रहे होंगे कलेजे पर।

एक तो वैसे ही मीडिया पर मंदी की मार चौतरफ़ा है उस पर फाइव स्टार होटल की शराब के बिल भरने की मजबूरी, रात की खुमारी जैसे काफूर ही हो गई। खबर तो यह भी है कि सिर्फ 75 पत्रकारों को अंदर जाने की अनुमति थी। बाकी बाहर टीवी पर देखो और लिखो खबर।अब इस मेहमाननवाजी पर पत्रकार क्या रुख अपनाते हैं ये तो आने वाले दिनों में ही मालूम पड़ेगा।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close