पत्नी के शराब न पीने से पति परेशान

मध्यप्रदेश के फैमिली कोर्ट में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया। यहां के काउंसलर उसी में उलझे हुए हैं। अक्सर दंपतियां एक दूसरे की शराब की आदत से परेशान रहती हैं। लेकिन यहां मामला थोड़ा उलटा है। एक महिला का पति उसकी शराब न पीने की आदत से परेशान है। वह चाहता है कि पत्नी कम से कम फैमिली फंक्शन में ही शराब पीना शुरू कर दे जैसे अन्य लोग पीते हैं।

काउंसलर ने कहा- पहली बार सुना ऐसा मामला

काउंसलर शैल अवस्थी ने कहा कि- ये मामला अपने आप में काफी अलग है और मैंने कभी नहीं सुना है। उन्होंने कहा कि ये एक मिडिल क्लास परिवार है। पति प्राइवेट जॉब करता है और बहुत अधिक पैसे वाले लोग नहीं हैं। पूरे परिवार में मां , पिता, भाई-बहन सभी को फैमिली फंक्शन में शराब पीना पसंद है लेकिन उसकी पत्नी को ये बिल्कुल पसंद नहीं।

ससुराल वाले शराब पीने को बनाते हैं दबाव

दंपति की शादी के कुछ समय तक सब कुछ ठीक रहा लेकिन उसके बाद ससुराल वाले महिला उस पर शराब पीते हुए कंपनी देने का दबाव बनाने लगे। महिला ने इंकार कर दिया तो विवाद शुरू हो गया। इस कपल के तीन बच्चे भी हैं जिनकी उम्र 9, 6 और 4 साल है। लेकिन शराब को लेकर विवाद शुरुआत से ही चल रहा है।

नहीं पसंद शराब तो न डालें दबाव

काउंसलर ने बताया कि ‘इस मामले में बहस होने पर पत्नी अक्सर अपने बच्चों को साथ लेकर मायके चली जाती थी। उसने शराब को छूने तक से इनकार कर दिया क्योंकि उसके परिवार में कोई भी इसका सेवन नहीं करता। हालांकि उसने कभी पति को शराब छोड़ने को नहीं कहा।’ काउंसलर के पास पहुंची दोनों पार्टी में से कोई भी समझौते को तैयार नहीं था। इसपर काउंसलर ने पति और उसके परिवार को समझाने की कोशिश की कि अगर पत्नी को पसंद नहीं है तो शराब पीने के लिए जोर न डालें।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close