देहरादून में अवैध बारों की शामत

ऋषिकेश से लेकर देहरादून तक नियमों को ताक पर रखकर आधी रात तक शराब पीने, पिलाने वालों की शामत आ गई है।  पुलिस ने सैटरडे रात 11 बजे बाद शहर के कई नामचीन क्लब और बारों पर रेड की, आधी रात भी क्लब और बार में लोग शराब पीते मिले।  राजपुर थाना पुलिस ने जाखन एरिया में दो क्लबों  कैटमेंट और क्यू-बी को नियम ताक पर रखकर शराब पिलाने पर पुलिस एक्ट के तहत चालान कर दिया। रायपुर थाना पुलिस ने भी रिंग रोड पर एक होटल में अवैध रूप से शराब पिलाते पकड़े जाने पर मालिक के खिलाफ आबकारी एक्ट में एफआईआर दर्ज कर ली. ऋषिकेश में वैसे तो शराब बंदी है, इसके बावजूद वहां शराब पीकर वाहन चलाते हुए दो दिन में 31 लोग पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

डायरेक्शन पर एक्शन

एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने शराब पीकर वाहन चलाने की वजह से बढ़ती सड़क दुर्घटनाएं और अवैध शराब के कारोबार पर लगाम के निर्देश दिए थे।  जिस पर एक्शन लेते हुए सैटरडे रात राजपुर थाना पुलिस इलाके में शराब की अवैध खरीद-फरोख्त और देर रात तक भी शराब पिलाने वालों पर कार्रवाई करने निकली।

डेटिंग प्वाइंट में अवैध बार

डालनवाला थाना इलाके में भी होटल डेटिंग प्वाइंट की चेकिंग में वहां अवैध रूप से शराब पिलाए जाने का मामला पकड़ा गया।  रिंग रोड स्थित होटल डेटिंग प्वाइंट पर बिना लाइसेंस शराब पिलाने के संबंध में पुलिस ने होटल मालिक बिजेन्द्र सिंह निवासी दून हिल्स कॉलोनी के खिलाफ आबकारी एक्ट में एफआईआर दर्ज की है।

शराबबंदी के बावजूद 31 ड्रंकन ड्राइव केस :

ऋषिकेश थाना इलाके में धार्मिक स्थल और गंगा के कारण ड्राइ जोन घोषित किया हुआ है। यहां शराब बेचना व पीना बैन है, लेकिन पुलिस ने दो दिन तक एल्कोमीटर लेकर वाहन चालकों की जांच की तो 31 लोग शराब पीकर वाहन चलाते पकड़े गए।  11 चालकों का चालान व 31 वाहन सीज कर दिए गए।  शुक्रवार व शनिवार की रात को पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ तीन जगह चंद्रभागा पुल, नटराज चौक और श्यामपुर फाटक के पास एल्कोमीटर से चेकिंग स्टार्ट की, रात 8 से 12 बजे तक चेकिंग अभियान चलाया तो 31 लोग शराब पीकर गाड़ी चलाते पकडे़ गए।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close