बंद हो गई चेन्नई के लोगों की प्यास बुझाने वाली ‘वॉटर ट्रेन’

पिछले कई महीनों से चेन्नई में लोगों की प्यास बुझाने का जरिया बनी ट्रेन की सेवा को रोकने का फैसला लिया गया है। मंगलवार को वेल्लोर जिले के जोलारपेट्टई से पानी लेकर आने वाली इस ट्रेन पर रोक लगा दी गई है।

इस ट्रेन की सेवा जुलाई में शुरु की गई थी, अब तक ये ट्रेन 159 बार पानी लेकर चेन्नई आ चुकी है। अधिकारियों ने बताया कि, अब इसे सेना को बंद किया जा रहा है क्योंकि चेन्नई के भूजल स्तर में पहले से काफी सुधार हुआ है। कल यानि मंगलवार को ट्रेन ने आखिरी बार चेन्नई में पानी पहुंचाया था।

बता दें कि इस साल चेन्नई में पानी का काफी संकट चल रहा था। चेन्नई में भूजल लगातार खत्म होता जा रहा था और जलाशय सूखते जा रहे थे। जिस वजह से वहां पर रह रहे लोगों को पीने के पानी के संकट का सामना करना पड़ रहा था। इसके बाद लोगों के पास टैंकर के जरिए पानी पहुंचाया गया।

पानी के इस संकट को देखते हुए तमिलनाडु सरकार ने विशेष कदम उठाया और विशेष ट्रेन के जरिए रोज 1 करोड़ लीटर पानी चेन्नई भेजा जाने लगा।

चीयर्स डेक्स 

loading...

Check Also

Close
Close
Close