उधमपुर में दूषित पानी की सप्लाई

जम्मू कश्मीर के जिलों में पीने के पानी की सप्लाई के क्या हालात हैं इसका खुलासा तब हुआ जब उधमपुर में डिस्ट्रिक्ट लीगल सर्विसेज अथारिटी की टीम द्वारा शहर को पानी सप्लाई करने वाले फिल्ट्रेशन प्लांट से उठाए गए सभी पानी के सैंपल फेल हो गए। सप्लाई किए जा रहे पानी में कई तरह की कमियां पाई गईं। इसको लेकर डीएलएसए के सदस्यों ने पीएचई विभाग के अधिकारियों को फटकार भी लगाई है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले डीएलएसए की सचिव ने टीम के साथ सलमेह स्थित फिल्ट्रेशन प्लांट का दौरा किया था। दौरे के दौरान फिल्ट्रेशन में कई प्रकार की कमियां पाई गई थीं। टीम ने पाया कि फिल्ट्रेशन में पानी को फिल्टर करने का पूरा काम नियमों की अनदेेेखी कर किया जा रहा था। कई तरह की मशीनरी भी खराब पड़ी थीं। टीम ने पानी के सैंपल उठाए और सैंपल को बाड़या स्थित पीएचई विभाग की लेबोरेटरी में पहुंचाया।

जब उठाए गए सैंपलों की रिपोर्ट पहुंची तो पाया गया कि सभी सैंपल पूरी तरह से फेल हो गए हैं। सेहत के साथ खिलवाड़ करते हुए शहरवासियों को दूषित पानी पिलाया जा रहा था। फिल्ट्रेशन प्लांट में नियुक्त कर्मचारियों के पास फिल्ट्रेशन प्लांट में काम करने का किसी तरह का तकनीकी प्रशिक्षण भी नहीं है। सभी अस्थायी कर्मचारी हैं।

सूत्रों के अनुसार दो दिन पहले डीएलसीए की टीम ने पीएचई के एक्सईएन को अपने पास बुलाकर फटकार लगाई है। एक्सईएन को सप्ताह के अंदर पानी की गुणवत्ता में सुधार करने का समय दिया है। अगर सप्ताह के अंदर पानी की सप्लाई व फिल्ट्रेशन प्लांट की कार्यप्रणाली में सुधार नहीं होता है तो इसको लेकर सख्त कार्रवाई की भी चेतावनी दी गई है।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close