अब हर घर को मिलेगा पानी का कनेक्शन

केंद्र सरकार के जल जीवन मिशन को लेकर बुधवार को हरियाणा के कैथल में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षक अभियंता देवीलाल ने सभी अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में अधीक्षक अभियंता ने जल जीवन मिशन के तहत हर घर तक नल के साथ शुद्ध जल पहुंचाने की योजना को लेकर विचार विमर्श किया। अधीक्षक अभियंता देवीलाल ने कहा कि योजना के तहत मुख्यालय के सख्त निर्देश है कि वर्ष 2022 तक हरियाणा का कोई भी घर पीने के पानी से वंचित ना रहे। इसके लिए विभागीय टीमें गठित कर दी गई है, जिसमें आरएमई, जेई, एसडीई की ड्यूटी फिक्स रहेगी, जो गांव-गांव जाकर सर्वे करेंगे और एस्टीमेट तैयार करेंगे।

सूचना शिक्षा संचार गतिविधियों व हाउस होल्ड सर्वे के लिए वासो का स्टाफ व सक्षम युवा कार्य कर रहे हैं। इसी सर्वे को जल जीवन मिशन के तहत जांचा जाएगा।

तीन चरणों में होगा कार्य :

अधीक्षक अभियंता ने बताया कि जल जीवन मिशन का कार्य तीन चरणों में किया जाएगा। प्रथम चरण में मौजूदा हालात को 70 प्रतिशत तक कवर किया जाएगा। इसका लक्ष्य 30 जून 2020 तक पूरा करने का है। वहीं द्वितीय चरण में 80 प्रतिशत तक का कवर करने का लक्ष्य है जो 30 जून 2021 तक पूरा किया जाएगा। वहीं तृतीय व अंतिम चरण में 100 प्रतिशत कवर करने का लक्ष्य है, जिसे 30 जून 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य है। जल जीवन मिशन के तहत जहां पाइप लाइन नहीं है,वहां पाइप लाइन डाली जाएगी। जहां बूस्टर नहीं है, वहां बूस्टर बनाए जाएंगे। जहां नए ट्यूबवेल लगाने हैं होंगे वहां नए ट्यूबवेल लगाए जाएंगे।।

83 हजार 118 घरों का डाटा किया ऑनलाइन :

जन स्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग के जिला सलाहकार दीपक कुमार ने बताया कि गांव-गांव में चल रहे ऑनलाइन हाउसहोल्ड सर्वे को ध्यान में रखते हुए ही जल जीवन मिशन का खाता तैयार होगा। इसलिए ग्राम पंचायत जल्द से जल्द गांव में सर्वे पूर्ण करवाने में विभाग की टीमों का पूर्ण सहयोग करें। दीपक कुमार ने बताया कि 83 हजार 118 घरों का डाटा ऑनलाइन कर दिया है। जिनमें से 64 हजार 687 घरों के पास पेयजल कनेक्शन है। वहीं अभी तक हुए सर्वे में 18 हजार 431 घर ऐसे मिले हैं जो पेयजल पाइपलाइन से वंचित हैं। जिन्हें जल जीवन मिशन के तहत पेयजल पाइप लाइन से जोड़ कर फंक्शनल हाउसओल्ड टेप कनेक्शन प्रदान किया जाएगा।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close